Close
  • +91-9814181255
  • helpline@medshopi.com

June 7, 2018

Girl Child education | लडकियों की शिक्षा है बहुत महत्वपूर्ण

Girl child education

महिलाओ के सशक्तिकरण के लिए शिक्षा सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्रो में से एक है| आज भी बहुत से समुदाय में लडकियों की शिक्षा हर पहलु से बहुत महत्वपूर्ण है | शिक्षा में स्कूल, कॉलेज, व्यवसायिक और तकनीकी शिक्षा यह सभी शिक्षा लडकियों को दी जानी चाहिए | भारत सहित प्रजातांत्रिक देशो में एक संविधान है, जिसमे पुरुष और महिला के लिए समान प्राथमिक शिक्षा महत्वपूर्ण अधिकार है | फिर भी भारत में महिलाओ को साक्षरता दर कम है, यह दर धीरे-धीरे कम हो रही है |  आईये जानते है, बालिकाओ और महिलाओं के लिए शिक्षा कैसे और कितना महत्वपूर्ण है  Girl Child education. Girls’ education/ Importance of girls’ education/  education.   Girls’ education in india/   how important girls’ education/ why girls’ education is so important.

 

बालिकाओ की शिक्षा का महत्त्व  Girl Child education

 

  1. भविष्य की शिक्षित पीढ़ी:

एक प्रसिद्ध कहावत है, एक लड़के को शिक्षित करने पर केवल एक पुरुष शिक्षित होता है, लेकिन एक लड़की को शिक्षित करने पर पूरा परिवार और राष्ट्र शिक्षित होता है| एक लड़की को स्कुल भेजते है तो यह सुनिश्चित करते है की वह भविष्य में अपने बच्चो को भी उतना ही अच्छे से शिक्षित करेगी | एक शिक्षित माँ के बच्चे अच्छा और स्वस्थ जीवन जीने में सक्षम होते है, उनको सामाजिक परेशानियों का कम सामना करना पड़ता है| एक लड़की की शिक्षा में निवेश करने का मतलब है देश के लिए निवेश करना|   Girl Child education

Girl child education is very important

Girl child should be educated with modern device

  1. शिशु म्रत्यु दर कम:

शिक्षित माँ के शिशु की म्रत्यु दर अशिक्षित माँ के शिशु की म्रत्यु दर से बहुत कम होती है | क्यूंकि शिक्षित माँ शिशु के स्वास्थय के प्रति सजग रहती है, बीमारी बढ़ने से पहले उसका इलाज कराती है | शिक्षित महिला को अच्छी जानकारी के कारण गर्भावस्था और डिलीवरी के समय और बाद में अच्छी चिकित्सा मिल पाती है| इससे माँ और बच्चा दोनों स्वस्थ रहते है |    Girl Child education

 

    3.निम्न मातृ म्रत्यु दर:

पढ़ी लिखी महिला के गर्भावस्था, डिलीवरी और डिलीवरी के बाद समय में म्रत्यु के संभावनाए बहुत कम रहती है | क्यूंकि शिक्षित महिला स्वास्थ्य की मेडिकल जांच समय पर कराती रहती है| महिलाओ के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए उपलब्ध संसाधनों तक पहुचने की क्षमता में वृद्धि होती है | डॉक्टर के द्वारा बताई गयी दवाईया और खाना समय पर खाती है, गर्भावस्था और डिलीवरी की समस्या को कम करने के लिए कोई हेल्थ क्लब और व्यायाम में शामिल होती है | कोई भी समस्या हो तुरंत चिकित्सा परामर्श लेती है और पौष्टिक आहार खाती है | इससे गर्भावस्था और डिलीवरी के समय समस्याए बहुत कम होती है, माँ का स्वास्थय डिलीवरी बाद में स्वस्थ रहता है |

 

   4.बाल-विवाह पर रोकथाम:

शिक्षा कम उम्र में विवाह को रोकने के लिए सबसे महत्वपूर्ण उपकरणों में से एक है | शिक्षित महिला को कम उम्र में शादी के परिणाम जानती है, और सही- गलत की पहचान रखती है | शिक्षित महिला को नियम कानून की समझ होती है | आजकल ज्यादातर शिक्षित महिलाए अपना भविष्य बनाने पर जोर देती है और सही उम्र में शादी करती है | जब उनको लगता है वो शादी और अपने बच्चो की देखभाल उनको अच्छा जीवन दे पाएगी तब शादी करती है | शिक्षित लडकियां अपने कोशल और जानकारी को बढ़ाती है, और उनमे आत्मविश्वास होता है | जिससे उनमे यह निर्णय करने की क्षमता होती है शादी कब और किससे करनी है |

 

  5.जनसँख्या वृद्धि पर रोक:

शिक्षित महिला के ज्यदातर कम बच्चो को जन्म देती है और बच्चो में कम से कम 3 से 4 साल का अंतर रखती है | जिससे उनको अच्छा जीवन और पोषण मिल सके | शिक्षित महिला छोटा परिवार सुखी परिवार में विशवास रखती है, क्यूंकि उनको हर सुख सुविधा और अच्छी शिक्षा मिलेगी तो वह स्वस्थ और अच्छा जीवन जीएंगे |   Girl Child education

 

 6.सामाजिक और आर्थिक क्षमता में वृद्धि:

शिक्षित लडकियों और महिलाओं में सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन लाने की क्षमता होती है | शिक्षित महिला गरीबी दूर करने और परिवार को स्वस्थ और अच्छा जीवन देने में सक्षम होती है | अच्छी समझ और अच्छी कार्य क्षमता के आधार पर वह कार्यक्षेत्र में आगे बढने में और अच्छा वेतन पाने में सक्षम होती है | इससे वह परिवार और समुदाय को वित्तीय तौर पर संभाल सकती है और गरीबी दूर कर सकती है |

 

  7.घरेलु अत्याचार और यौन शोषण पर रोकथाम:

शिक्षित महिला घरेलु हिंसा और यौन शोषण को बर्दाश नहीं करती है, उसके विरोध में आवाज उठाती है | अपने आस-पास शोषण से पीड़ित महिलाओ की मदद कर सकती है, उनको जागरूक कर सकती है | क्यूंकि एक शिक्षित महिला अपने अधिकारों के लिए जागरूक होती है, इसलिए ऐसी घटनाएं उनके जीवन में कम देखने को मिलती है |    Girl Child education

 

  8.स्वस्थ जीवन:

शिक्षित होने पर लडकियों और महिलाये स्वछता के महत्व का पता चलता है | शिक्षा से उनको स्वस्थ जीवन और स्वस्थ दिनचर्या कैसे जीयें यह सब पता चलता है | माहवारी और यौन संबंधो में कैसे सफाई का ध्यान कैसे रखना है, यह एक शिक्षित महिला अच्छे से जानती है | इससे कोई बीमारी और शरीरिक समस्या होने की संभावनाए बहुत कम होती है | अपने स्वास्थय के साथ शिक्षित महिला अपने परिवार के स्वास्थय और सफाई का भी अच्छे से ध्यान रखती है | इससे एक स्वस्थ राष्ट्र बनेगा और बीमारी से पीड़ित लोगो की संख्या में कमी होगी |

 

  9.अपनी इच्छा से कार्यक्षेत्र चुनने का अवसर:

अच्छी शिक्षित लडकियां और महिलाए अपनी इच्छा के व्यावसायिक क्षेत्र में सफल होती है | शिक्षा के माध्यम से लडकियां अपने सपनो को पूरा कर सकती है, जो बनना चाहती है वो बन सकती है | अपनी रुचि के व्यवसाय को चुनकर लडकियां पायलट, इंजीनियरिंग, डॉक्टर जो चाहे बन सकती है | वह अपने रुचि के कार्यो को कौशल और सफलतापूर्वक करने में सक्षम होती है |

 

  10. सम्मान और गौरव:

पढ़ी लिखी महिला को उसके समाज में सम्मानित किया जाता है | शिक्षा समाज और कार्यक्षेत्र में सामान और गौरव देता है | एक शिक्षित महिला बहुत सी लडकियों और महिलाओ के लिए प्रेरणा बनती है | लडकियां ऐसी महिला से प्रेरणा लेकर अपने आपको विकसित करती है और जीवन में आगे बढती है| इसके अलावा लडकियों को शिक्षित करने के बहुत से फायदे है |

Girl child education is very important

Educated girl gets inspiration for other girls

  11. आत्मनिर्भरता:

शिक्षा महिलाओं और लडकियों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाती है | शिक्षा में माध्यम से लडकियों ने जो सिखा है, उससे वह अपना व्यवसाय करने में और अच्छा कार्यक्षेत्र पान पाने में सक्षम होती है | ऐसे लड़कियां किसी पर निर्भर नहीं रहती है, अपना जीवन यापन करने के लिए खुद सक्षम होती है | ऐसे शिक्षा महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने में मदद करती है|

Girl child education is very important

Education makes women independent

 

  12. सम्रद्ध देश :

महिलाओं की शिक्षा में निवेश करेंगे तो इससे पुरुष के साथ महिलाओ का सहयोग होने से देश अधिक तरक्की करेगा और सम्रद्धि को प्राप्त करेगा |     Girl Child education

 

 

  बालिकाओ की शिक्षा तक पहुच को कैसे आसान बनाये |  WHAT WOULD IT TAKE TO IMPROVE GIRLS’ ACCESS TO EDUCATION

 

शिक्षा सबका समान अधिकार है लड़का हो या लड़की शिक्षा दोनों को दी जानी चाहिए | कई लोग और समुदाय आज भी बालिकाओ की शिक्षा को उतना महत्व नहीं देते है | सरकार ने बालिकाओ की शिक्षा के इए शिक्षा को बढाने के लिए कई योजनाये बनाई है | भारत सरकार ने देश के दूर दराज गर्मीं क्षेत्र अनुसूचित जाती / जनजाति / पिछड़े वर्ग, अल्पसख्यक समुदाय के बालिकाओ के लिए आवासीय विद्यालय और कई जगह पर मुफ्त प्राथमिक शिक्षा और भोजन की सुविधा है | लेकिन सरकार द्वारा बालिकाओ की शिक्षा के लिए जो योजनाये बनाई गयी है, उनको बालिकाओ-बालिकाओ तक पहचाने के लिए क्या कदम उठाये जाने चाहिए | शिक्षा को हर बच्चे तक पहुचाने के लिए क्या कदम उठाये जाने चाहिए |

  •  माता- पिता और समुदाय भागीदारी:

परिवार और समुदाय को बच्चो की शिक्षा के प्रबंधन में स्कूल के साथ महत्वपूर्ण भागीदार होना चाहिए |  Girl Child education

  • कम लागत में शिक्षा:

जितना प्राथमिक शिक्षा कम मूल्य और मुफ्त होनी चाहिए | जहाँ हो सके शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति या कुछ छूट मिलनी चाहिए | जिससे बालक और खासकर बालिकाए शिक्षा ले पाए | स्कूल में पढाई के घंटो में लचीलापन होना चाहिए |

 

  • स्कूल का स्थान पास हो:

ज्यादातर लोग ग्रामीण इलाके में स्कूल दूर होने के कारण अपनी बालिकाओ को स्कूल नहीं भेजते | वाहन की अच्छी सुविधा नहीं होने के कारण भी बच्चे स्कूल जाने से वंचित हो जाते है, क्यूंकि स्कूल बहुत दूर होता है जहाँ तक जाने के लिए अच्छी सुविधाए नहीं है | इसलिए स्कूल घर के पास होना चाहिए और पढाई के घंटे लचीले होने चाहिए जिससे वो किसी कारण अगर सुबह स्कूल नहीं जा पाए तो बाद में पदाई करने स्कूल जा सकेगे|

 

  • स्कूल जाने की तैयारी:

अपनी बालिकाओं को स्कूल जाने के से पहले की उम्र में घर पर प्रारंभिक शिक्षा दी जानी चाहिए | जिससे वह स्कूल जाने के लिए मानसिक तौर पर तैयार हो जाते है और स्कूल में अच्छा प्रदर्शन करते है |

 

  • सम्बंधित भाषा में पाठ्यक्रम:

स्कूल में प्रारंभिक शिक्षा का पाठ्यक्रम बालक-बालिकाओ की अपनी क्षेत्रीय भाषा में होना चाहिए | इससे उनको पढने में आसानी होगी और अच्छा प्रदर्शन करने में सक्षम होगी |     Girl Child education

  • दहेज़ प्रथा पर रोक:

दहेज़ प्रथा को कम करने में भी शिक्षा बहुत सहायक है| ज्यादातर शिक्षित लड़की के माँ-बाप को शादी के लिए दहेज़ देने के लिए   मजबूर नहीं होना पड़ता है | उनको पता होता है उनकी लड़की आत्मनिर्भर है, जीवन यापन के लिए किसी पर निर्भर नहीं है | शिक्षित लड़की भी दहेज़ के पक्ष में नहीं होती है, उनको अपने अधिकारों और सही गलत की अच्छी पंचान होती है | अपने लिए सही निर्णय करने में शिक्षित लड़की सक्षम होती है |

 

Note: अपनी लडकियों और महिलाओ को अच्छी शिक्षा दे| यह उनका अधिकार है  यह उनके जीवन, आपके परिवार और सम्पूर्ण देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है | जितना हो सके इस पोस्ट को लोगो तक पहुचाये जिससे हर लड़की को शिक्षा मिल सके और उसका भविष्य उज्जवल हो |

 

“सशक्त नारी सशक्त भारत”

 

इस पोस्ट Girl child education is very important के माध्यम से हमने बताया की लडकियों के लिए शिक्षा कितनी महत्वपूर्ण है |

 

 

आशा करते है आपको हमारा यह पोस्ट Girl child education is very important पसंद आया होगा |

 

 

ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी के लिए Medshopi blog पर जाए |

 

धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *